Lekin Mohabbat Badi Hain Lyrics

Lekin Mohabbat Badi Hain Lyrics from ( Narasimha ) Movie (1991) Song Sung by Alka Yagnik, Mohammed Aziz. this Song Music given by Laxmikant Pyarelal. Lekin Mohabbat Badi Hain Lyrics by Javed Akhtar. this Song Video Actor by Sunny Deol, Dimple Kapadia, Urmila Matondkar and this Video Song is Label by Tips Music.

Lekin Mohabbat Badi Hain Lyrics

Lekin Mohabbat Badi Hain Lyrics

Song Credits

Movie:    Narasimha (1991)
Song:     Lekin Mohabbat Badi Hain
Singer:   Alka Yagnik, Mohammed Aziz
Music:    Laxmikant Pyarelal
Lyrics:    Javed Akhtar
Cast:      Sunny Deol, Dimple Kapadia, Urmila Matondkar
Label:     Tips Music

Lekin Mohabbat Badi Hain Song:

Lekin Mohabbat Badi Hain Lyrics

Chup chaap tu kyun khadi hain
Ye faisle ki ghadi hain
Chup chaap tu kyun khadi hain
Ye faisle ki ghadi hain

Aa duniya waalo se kah de
Wo chahe maane ya maane
Aa duniya waalo se kah de
Wo chahe maane ya maane
Lekin mohabbat badi hain
Ye faisle ki ghadi hain
Chup chaap tu kyun khadi hain

Aa main bulata hoon tujko
Aa teri manzil yahaa hain
Aa main bulata hoon tujko
Aa teri manzil yahaa hain
Aa dil ki baazi lagi hain
Aa dil ki baazi lagi hain
Aa pyar ka imtaha hain
Ye aajmais ghadi hain

Lekin mohabbat badi hain
Ye faisle ki ghadi hain
Chup chaap tu kyun khadi hain

Soni se aur heer se maine
Sikha karna pyar
Rok nahi paayegi
Mujko ab koi deewar
Tujse jo door thi main
Kal tujse jo door thi main
Bebas thi majboor thi main
Jab gunja tera tarana
Tuta mera kaid khana
Zanjeer tuti padi hai

Sach hai mohabbat badi hain
Sach hai mohabbat badi hain
Ye faisle ki ghadi hain

Hain naaz taakat pe jisko
Hain naaz taakat pe jisko
Wo har sitam aazmale
Itna samaj le ye duniya
Itna samaj le ye duniya
Darte nahi pyar waale
Ye maut aage khadi hain

Sach hain mohabbat badi hain
Ye faisle ki ghadi hain
Aa duniya waalo se kah de
Wo chahe maane ya maane
Lekin mohabbat badi hain
Ye faisle ki ghadi hain
Ye faisle ki ghadi hain
Sach hai mohabbat badi hain.

Lekin Mohabbat Badi Hain Lyrics

चुप चाप तू क्यों कड़ी हैं
ये फैसले की घडी हैं
चुप चाप तू क्यों कड़ी हैं
ये फैसले की घडी हैं

ा दुनिया वालों से कह दे
वो चाहे माने या माने
ा दुनिया वालों से कह दे
वो चाहे माने या माने
लेकिन मोहब्बत बड़ी हैं
ये फैसले की घडी हैं
चुप चाप तू क्यों कड़ी हैं

ा मैं बोलता हूँ तुझको
आ तेरी मंज़िल यहाँ हैं
ा मैं बोलता हूँ तुझको
आ तेरी मंज़िल यहाँ हैं
आ दिल की बाज़ी लगी हैं
आ दिल की बाज़ी लगी हैं
ा प्यार का इम्तहा हैं
ये आजमाइस घडी हैं

लेकिन मोहब्बत बड़ी हैं
ये फैसले की घडी हैं
चुप चाप तू क्यों कड़ी हैं

सोनी से और हीर से मैंने
सीखा करना प्यार
रोक नहीं पाएगी
मुझको अब कोई दीवार
तुझसे जो दूर थी मैं
कल तुझसे जो दूर थी मैं
बेबस थी मजबूर थी मैं
जब गूंजा तेरा तराना
टुटा मेरा कैद खाना
ज़ंजीर टूटी पड़ी है

सच है मोहब्बत बड़ी हैं
सच है मोहब्बत बड़ी हैं
ये फैसले की घडी हैं

हैं नाज़ ताकत पे जिसको
हैं नाज़ ताकत पे जिसको
वो हर सितम आज़माले
इतना समझ ले ये दुनिया
इतना समझ ले ये दुनिया
डरते नहीं प्यार वाले
ये मौत आगे कड़ी हैं

सच हैं मोहब्बत बड़ी हैं
ये फैसले की घडी हैं
ा दुनिया वालों से कह दे
वो चाहे माने या माने
लेकिन मोहब्बत बड़ी हैं
ये फैसले की घडी हैं
ये फैसले की घडी हैं
सच है मोहब्बत बड़ी हैं.

Leave a Comment