Mohabbat Hain Khushboo Lyrics – Jigar

Mohabbat Hain Khushboo Lyrics from ( Jigar ) Movie (1992) Song Sung by Mohammed Aziz. this Song Music given by Anand Shrivastav, Milind Shrivastav. Mohabbat Hain Khushboo Song lyrics by Sameer. this Song Video Actor by Ajay Devgan, Karisma Kapoor and this Video Song is Label by Tips Music.

Mohabbat Hain Khushboo Lyrics - Jigar

Song Credits:

Movie:   Jigar (1992)
Song:    Mohabbat Hain Khushboo
Singer:  Mohammed Aziz
Music:   Anand Shrivastav, Milind Shrivastav
Lyrics:   Sameer
Cast:      Ajay Devgan, Karisma Kapoor
Label:    Tips Music

Mohabbat Hain Khushboo Lyrics

Pyaar ke panchi pinzare
Mein nahin rahete saiyaa
Pyaar ke panchi pinzare
Mein nahin rahete saiyaa
Mohabbat hai khushboo
Mohabbat hain lehara
Mohabbat hain khushboo
Mohabbat hain lehara
Mohabbat pe kaise
Lagaayega pehara
Mohabbat ka manzar
Mohabbat hain sehara
Mohabbat ka manzar
Mohabbat hain sehara
Mohabbat pe kaise
Lagaayega pehara
Mohabbat hain khushboo
Mohabbat hain lehara
Mohabbat pe kaise
Lagaayega pehara

Hawaanyon ka chalana
Gulon ka mehakana
Kabhi na rukega
Dilon ka dhadakana
Hawaanyon ka chalana
Gulon ka mehakana
Kabhi na rukega
Dilon ka dhadakana
Kabhi surkh honto ki
Rangat se chalaka
Kabhi chaand taaron ki
Aankhon se jhalaka
Hai range wafa saari rango se
Gehara rango se gehara
Mohabbat hain khushboo
Mohabbat hain lehara
Mohabbat pe kaise
Lagaayega pehara
Mohabbat ka manzar
Mohabbat hain sehara
Mohabbat pe kaise
Lagaayega pehara
Mohabbat hain khushboo
Mohabbat hain lehara
Mohabbat pe kaise
Lagaayega pehara
Sehamein darein se
Jubaano ki basti
Inaki nazar mein
Mohabbat hain sasti
Sehamein darein se
Jubaano ki basti
Inaki nazar mein
Mohabbat hain sasti
Uthegi kahi se na aawaaz koi,
Bataayega tujhako nahi raaz koi
Mohabbat saja hai jamaana hai
Behara jamaana hai behara
Mohabbat hain khushboo
Mohabbat hain lehara
Mohabbat pe kaise
Lagaayega pehara
Mohabbat ka manzar
Mohabbat hain sehara
Mohabbat pe kaise
Lagaayega pehara
Mohabbat hain khushboo
Mohabbat hain lehara
Mohabbat pe kaise
Lagaayega pehara

Kabhi hain haqeeqt
Kabhi hain inaayat
Kabhi hain bagaavat
Kabhi hain qayaamat
Kabhi hai haqeeqt
Kabhi hain inaayat
Kabhi hai bagaavat
Kabhi hain qayaamat
Hazaaron karodo dilon ki ifaazat
Mohabbat khuda hain
Khuda hain mohabbat
Sab kuchh isike dum pe hain
Thehara dum pe hain thehara
Mohabbat hain khushboo
Mohabbat hain lehara
Mohabbat pe kaise
Lagaayega pehara
Mohabbat ka manzar
Mohabbat hain sehara
Mohabbat pe kaise
Lagaayega pehara
Mohabbat hain khushboo
Mohabbat hain lehara
Mohabbat pe kaise
Lagaayega pehara.

प्यार के पंछी पिंजरे
में नहीं रहते सैया
प्यार के पंछी पिंजरे
में नहीं रहते सैया
मोहब्बत है खुश्बू
मोहब्बत हैं लेहरा
मोहब्बत हैं खुशबू
मोहब्बत हैं लेहरा
मोहब्बत पे कैसे
लगाएगा पहरा
मोहब्बत का मंज़र
मोहब्बत हैं सेहरा
मोहब्बत का मंज़र
मोहब्बत हैं सेहरा
मोहब्बत पे कैसे
लगाएगा पहरा
मोहब्बत हैं खुशबू
मोहब्बत हैं लेहरा
मोहब्बत पे कैसे
लगाएगा पहरा

हैवानों का चलना
गुलों का महकना
कभी न रुकेगा
दिलों का धड़कना
हैवानों का चलना
गुलों का महकना
कभी न रुकेगा
दिलों का धड़कना
कभी सुर्ख होंठो की
रंगत से छलका
कभी चाँद तारों की
आँखों से झलका
है रेंज वफ़ा साड़ी रंगो से
गहरे रंगो से गहरा
मोहब्बत हैं खुशबू
मोहब्बत हैं लेहरा
मोहब्बत पे कैसे
लगाएगा पहरा
मोहब्बत का मंज़र
मोहब्बत हैं सेहरा
मोहब्बत पे कैसे
लगाएगा पहरा
मोहब्बत हैं खुशबू
मोहब्बत हैं लेहरा
मोहब्बत पे कैसे
लगाएगा पहरा
सेहमें दरें से
जुबानो की बस्ती
इनकी नज़र में
मोहब्बत हैं सस्ती
सेहमें दरें से
जुबानो की बस्ती
इनकी नज़र में
मोहब्बत हैं सस्ती
उठेगी कही से न आवाज़ कोई
बतायेगा तुझको नहीं राज़ कोई
मोहब्बत सजा है ज़माना है
बेहरा ज़माना है बेहरा
मोहब्बत हैं खुशबू
मोहब्बत हैं लेहरा
मोहब्बत पे कैसे
लगाएगा पहरा
मोहब्बत का मंज़र
मोहब्बत हैं सेहरा
मोहब्बत पे कैसे
लगाएगा पहरा
मोहब्बत हैं खुशबू
मोहब्बत हैं लेहरा
मोहब्बत पे कैसे
लगाएगा पहरा

कभी हैं हक़ीक़त
कभी हैं इनायत
कभी हैं बगावत
कभी हैं क़यामत
कभी है हक़ीक़त
कभी हैं इनायत
कभी है बगावत
कभी हैं क़यामत
हज़ारों करोड़ों दिलों की िफ़ाज़त
मोहब्बत खुदा हैं
खुदा हैं मोहब्बत
सब कुछ इसीके दम पे हैं
ठहरा दम पे हैं ठहरा
मोहब्बत हैं खुशबू
मोहब्बत हैं लेहरा
मोहब्बत पे कैसे
लगाएगा पहरा
मोहब्बत का मंज़र
मोहब्बत हैं सेहरा
मोहब्बत पे कैसे
लगाएगा पहरा
मोहब्बत हैं खुशबू
मोहब्बत हैं लेहरा
मोहब्बत पे कैसे
लगाएगा पहरा.

Mohabbat Hain Khushboo Song:

Leave a Comment